ऑब्जेक्ट साप्ताहिक ***** प्रत्येक गुरूवार को प्रकाशित एवं प्रसारित ***** सटीक राजनैतिक विश्लेषण, लोकहित के समाचार, जनसंघर्ष का प्रहरी

भारतीयों के 14,000 करोड़ रुपए स्विस बैंकों में!

नई दिल्‍ली (ओएनएस) स्विट्जरलैंड की बैंकिंग प्रणाली की चर्चित गोपनीयता के खिलाफ वैश्विक कदम उठाए जाने के बावजूद स्विस बैंकों में जमा भारतीयों का धन बढ़ कर दो अरब स्विस फ्रांक (करीब 14,000 करोड़ रुपए) से अधिक हो गया है। स्विट्जरलैंड के केंद्रीय बैंक स्विस नैशनल बैंक (एसएनबी) द्वारा जारी ताजा आंकड़े के मुताबिक देश के बैंकों में 2013 के दौरान भारतीयों द्वारा जमा धन में 40 प्रतिशत से अधिक बढ़ोतरी हुई है। वर्ष 2012 के अंत में वहां भारतीयों की 1.42 अरब स्विस फ्रांक की राशि जमा थी। इसके विपरीत अन्य विदेशी ग्राहकों द्वारा स्विस बैंकों में धन जमा में गिरावट जारी है। वर्ष 2013 के अंत में घट कर 1,320 अरब स्विस फ्रांक (करीब 1.560 अरब डालर या 90 लाख करोड़ रुपए से कुछ अधिक) के स्तर पर रही। यह इसके न्यूनतम स्तर का एक रिकार्ड है।
ज्ञातव्‍य रहे कि स्विस बैंक में भारतीयों का धन 2012 के दौरान एक तिहाई घटकर रिकार्ड न्यूनतम स्तर पर चला गया था। स्विस बैंकों में 2013 के अंत में स्विस बैंकों में भारतीयों द्वारा जमा धन में से 1.95 अरब स्विस फ्रांक भारतीय व्यक्तियों या इकाइयों ने सीधे जमा करा रखी थी जबकि 7.73 करोड़ स्विस फ्रांस संपत्ति प्रबंधकों के माध्यम से जमा कराया गया था। ज्यूरिख स्थित एसएनबी का यह ताजा आंकड़ा ऐसे समय में आया है जबकि स्विट्जरलैंड पर भारत और अन्य देशों से विदेशी ग्राहकों की जानकारी के आदान-प्रदान के संबंध में दबाव का सामना करना पड़ रहा है। ज्ञातव्‍य रहे कि भारतरीयों के देश विदेश में जमा कथित कालेधन के मामले की जांच के संबंध में विशेष जांच दल (एसआईटी) का गठन किया गया जिसमें स्विट्जरलैंड जैसी जगहों पर जमा धन शामिल है। देश का अवाम लगातार कालेधन को देश में वापस लाने का सरकार पर दबाव बना रहा है।
ज्ञातव्‍य रहे कि देश के बडे उद्योगपतियों, कालेधन का लेनदेन व हवाला कारोबारियों का हिस्‍सा सबसे ज्‍यादा है और इन सभी से देश के राजनैतिक दल इन से मोटा चुनावी चंदा लेते रहे हैं, इस ही लिये वे इन को संरक्षण भी दे रहे हैं।

 
मुख्‍य पृष्‍ठ | सरदारशहर संस्‍करण | जयपुर संस्‍करण | राज्‍य समाचार | देश समाचार | विडियो | विज्ञापन दर | सम्‍पर्क